Category : Banking GK in Hindi

क्या है केवाईसी – What is KYC in Hindi

भारत में बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र में सबसे ज्‍यादा प्रयाेग होने वाला शब्‍द है केवाईसी (KYC) आईये जानते हैं क्‍या है केवाईसी (KYC) और क्यों महत्वपूर्ण है – केवाईसी की फुलफार्म है नो योर कस्टमर (know your customer) यानि अपने ग्राहक को पहचानो, भारत सरकार द्वारा बैंकों को निर्देशित किया गया हैै कि केवाईसी केे… Read More »

बैंक टैग लाइन और स्‍लोगन – Banks Tag Line and Slogan in Hindi

भारतीय रिजर्व बैंक भारत के सभी बैंकों का संचालन करता है और भारत की अर्थव्यवस्था को नियंत्रण में रखता है। अगर आप इस बैंक टैग लाइन और स्‍लोगन के बारे मे और कोई जानकारी चाहते हैं तो आप कमेंट बॉक्स मे कमेंट कर सकते है। और आप अपने विचार का सुझाव भी कमेंट बॉक्स मे… Read More »

बैंक की तैयारी करने के महत्वपूर्ण टिप्स – Important Tips Prepare for Bank Exams in Hindi

बैंक द्वारा प्रत्येक वर्ष पीओ, क्लर्क, की परीक्षा वर्ष में 2 बार आयोजित की जाती है \इसके अलावा स्पेशलिस्ट ऑफिसर के लिए भी परीक्षा आयोजित की जाती है| सबसे पहले जब आप इसकी तैयारी के बारे में सोचते है तो तैयारी कैसे करें यह बात सामने आती है जैसे – परीक्षा में क्या आने वाला,… Read More »

जानें वाणिज्यिक बैंकों के बारे में – Know About Commercial Banks

वाणिज्यिक बैंकों (Commercial Banks) को व्‍यवसायिक बैंक भी कहते हैं  वाणिज्यिक बैंकों देश की वित्‍तीय संस्‍थान प्रणाली का एक प्रमुख हिस्‍सा है तो आइये जानते हैं जानें वाणिज्यिक बैंकों के बारे में – Know About Commercial Banks इस बैंकों का कार्य  धन जमा करने, व्यवसाय के लिये ऋण देने जैसी सेवायें प्रदान करना है ये बैंक… Read More »

भारतीय रिजर्व बैंक से जुड़े रोचक तथ्य – Interesting Facts About Reserve Bank of India

भारतीय रिजर्व बैंक (Bharatiya Reserve Bank) की स्थापना 1 अप्रैल, 1935 में हुई भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) को भारत की प्रधान बैंक भी कहा जाता है। भारतीय रिजर्व बैंक यानी कि आरबीआई देश के सभी बैंकिंग सिस्‍टम को रेग्‍युलेट करता है| रिजर्व बैंक के रेपो रेट में बदलाव के आधार पर ही कमर्शियल… Read More »

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नरों की सूची – List of Governors of Reserve Bank of India

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) की स्‍थापना 1935 में हुई थी, RBI का कार्य भारत के सभी बैंकोंं के कार्यकलापों पर नजर रखना है व नये नियम व कानून पारित करना है, इसलिये इसे भारत का प्रधान बैंक भी कहा जाता है, RBI के राष्‍ट्रीयकरण वर्ष से वर्तमान तक कुल 24 गवर्नरों ने… Read More »

भारत में कार्यरत निजी बैंक और उनके सीईओ – List of Indian Private Banks and their Heads/CEO

भारत में बैंकिंग क्षेत्र में 3 प्रकार के बैंक होते हैं: सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, निजी क्षेत्र के बैंक और विदेशी बैंक निजी क्षेत्र के बैंकों पर या तो एक व्यक्ति का या भागीदारों का समावेश होता है| भारत में निजी क्षेत्र के बैंकों में बाजार मूल्य के आधार पर सबसे बड़ा बैंक एचडीएफसी (हाउसिंग… Read More »

भारत के राष्ट्रीयकृत बैंकों की सूची और उनके अध्यक्ष – List of nationalised banks in India and their chairman

राशि जमा रखने तथा ऋण प्रदान करने के अलावा बैंक अन्य काम भी करते हैं जैसे, सुरक्षा के लिए लोगों से उनके आभूषण जैसी बहुमूल्य वस्तुएँ जमा रखना, अपने ग्राहकों के लिए उनके चेकों का संग्रहण करना, व्यापारिक बिलों की कटौती करना, एजेंसी का काम करना, गुप्त रीति से ग्राहकों की आर्थिक स्थिति की जानकारी… Read More »

भारत के अनुसूचित बैंक – Scheduled Banks in India

भारत में बैंकिंग क्षेत्र को मुख्य रूप से दो प्रमुख समूहों में विभाजित किया गया है: अनुसूचित बैंकों गैर-अनुसूचित बैंकों अनुसूचित बैंक (Scheduled Banks) वह बैंक हैं जिनका नाम भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) अधिनियम- 1934 की दूसरी अनुसूची शामिल हैं, रिजर्व बैंक की अनुसूची में केवल वही बैंक शामिल की जाती है, जो बैंक केंद्रीय… Read More »

बैंक और उनके मुख्‍यालय – Indian Banks and their Headquarters

भारत में 27 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक हैं जिनमें 21 राष्ट्रीयकृत बैंक और 6 स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और उसके सहयोगी हैं। बैंक एक वित्तीय संस्थान है जो जनता से पैसो को जमा करता है और क्रेडिट बनाता है। बैंक जिसका मुख्यालय मुंबई में हैं – Bank headquartered in Mumbai भारतीय रिजर्व बैंक ( Reserve… Read More »

भारत में बैंकिंग – Banking in India

बैंंक यानि पैसे के लेन-देन का सबसे आसान और भरोसेमंद तरीका है अगर हमें पैसे‍ निकालने या जमा करने हों तो सबसे पहले हमें बैंक की याद आती है क्‍योंकि आपसी लेन-देन से अधिक सुरक्षित लोग बैकों के लेनदेन को मानते हैं लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि जब बैंंक नहीं थी तब पैसे का… Read More »

90 महत्‍वपूर्ण तथ्‍य मुद्रा एवं बैंकिंग के बारे में – 90 Key facts about the currency and banking

भारत में शरुआत में छोटे राज्य थे जहां आप एक वस्तु को दे कर दूसरी वस्तु खरीद सकते थे। परंतु बाद में जब बड़े-बड़े राज्यों का निर्माण हुआ तो वह प्रणाली समाप्त होती गई और इस कमी को पूरा करने के लिए मुद्रा का निवारण किया गया। भारतीय करेंसी नोट पर १७ भाषाएं होती है|… Read More »

भारत में बैंकों का वर्गीकरण – Classification of Banks in India

बैंक पैसे देने और लेने का कार्य करती है| हर देश में कई प्रकार के बैंक होते हैं, जबकि प्रत्येक प्रकार के बैंक कुछ कार्य करते हैं। बैंकों को उनके कार्यों के अनुसार वर्गीकृत किया जाता है। एक बैंक एक वित्तीय संस्था है जिसमें कई प्रकार केे लेन-देन किये जाते हैं, अलग-अलग कार्यो के हिसाब… Read More »

भारतीय रिजर्व बैंक के कार्य – Functions of the Reserve Bank of India

भारतीय रिजर्व बैंक भारत का केन्द्रीय बैंक है। यह भारत के सभी बैंकों का संचालन करता है और भारत की अर्थव्यवस्था को नियंत्रण में रखता है। रिजर्व बैंक की स्थापना 1 अप्रैल, 1935 में हुई और कोलकाता में मुख्‍यालय बनाया गया, 1937 के बाद इसे मुंबई स्थानांतरित कर दिया गया, पहले यह एक प्राइवेट बैंक… Read More »

प्रमुख भारतीय बैंक और उनके स्थापना दिवस – List of Indian Banks With Day of Establishment in Hindi

भारत में बैकों का उदय स्‍वतंत्रता प्रप्ति से पहले हुआ था. भारत के प्रधान बैंक यानि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank of India) का राष्‍ट्रीयकरण वर्ष 1935 में हुआ था और 19 जुलाई 1969 को 14 बैंकों का राष्‍ट्रीयकरण कर दिया गया | इसके बाद वर्ष 1980 ने 6 और नये बैंकों का राष्‍ट्रीयकरण… Read More »