भारत नेट प्रोजेक्ट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी – Important Information About Bharat Net Project

By | May 10, 2021
भारत नेट प्रोजेक्ट के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी - Important Information About Bharat Net Project

राष्ट्रीय ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क (NOFN) BharatNet Project ग्रामीण क्षेत्रों में ब्रॉडबैंड क्रांति को गति देने के लिए एक महत्वाकांक्षी पहल है।
NOFN की परिकल्पना सुपर हाईवे के रूप में की गई थी, जो ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी तक पहुँचने के लिए एक मजबूत मिड-मील के बुनियादी ढांचे के निर्माण के माध्यम से था।

नेशनल ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क (एनओएफएन) BharatNet Project का लक्ष्य देश की सभी 2,50,000 ग्राम पंचायतों को जोड़ना है और सभी ग्राम पंचायतों (जीपी) को 100 एमबीपीएस कनेक्टिविटी प्रदान करना है।

इसे प्राप्त करने के लिए, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (बीएसएनएल, रेलटेल और पावर ग्रिड) के मौजूदा तंतुओं का उपयोग किया गया था और जहां आवश्यक हो, ग्राम पंचायतों को जोड़ने के लिए वृद्धिशील फाइबर बिछाया गया था। इस प्रकार बनाए गए डार्क फाइबर नेटवर्क को उपयुक्त तकनीक द्वारा जलाया गया, जिससे ग्राम पंचायतों में पर्याप्त बैंडविड्थ का निर्माण हुआ।

बजट 2017 में भारत नेट प्रोजेक्ट (Bharat Net Project) के लिये 10,000 करोड़ का Budget आवंटित किया गया है|

आईये जानते हैं  भारत नेट प्रोजेक्ट (Bharat Net Project) के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी – Important Information About Bharat Net Project

भारत नेट प्रोजेक्ट


भारत सरकार द्वारा गाँव एवं दूर-दराज के क्षेत्रों में नागरिकों एवं संस्थानों को सुलभ ब्रॉडबैंड सर्विस प्रदान करने के लिए भारत नेट परियोजना (BharatNet Project) की शुरुआत की है|

  1. बजट 2017 में भारत नेट प्रोजेक्ट (Bharat Net Project) के लिये 10,000 करोड़ का Budget आवंटित किया गया है|
  2. भारत नेट प्रोजेक्ट (Bharat Net Project) में उत्‍तर प्रदेश की हर ग्राम पंचायत को वाई-फाई किया जाएगा।
  3. भारत नेट प्रोेजेक्ट में जिले समेत प्रदेश की हर ग्राम पंचायत को वाई-फाई किया जाएगा।
  4. इसके लिए पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क (Optical fiber network) से जोड़ा जा रहा है।
  5. ओएफसी नेटवर्क (Optical Fiber Communication Network) का नाम बदलकर भारत नेट (Bharat Net) कर दिया गया है।
  6. इस प्रोजेक्ट के तहत बीएसएनएल को सभी ग्राम पंचायतों तक ओएफसी के जरिए इंटरनेट पहुंचाना है।
  7. ग्राम पंचायतों में राज्य सरकार ही अपने ई-सुविधा केंद्र खोलकर अपने ऑपरेटर तैनात करेगी।
  8. भारत नेट की स्पीड 60 एमबीपीएस तक होगी।

अगर आप इस भारत नेट प्रोजेक्ट के बारे मे और कोई जानकारी चाहते हैं तो आप कमेंट बॉक्स मे कमेंट कर सकते है। और आप अपने विचार का सुझाव भी कमेंट बॉक्स मे दे सकते है। कृपया इस पोस्ट को शेयर करे, ताकि यह सभी जनरल नॉलेज नोट्स(General knowledge notes) पढ़ सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.