G-20 के सदस्य देशो का नाम याद रखने का ट्रिक – Gk Tricks G 20 Member Countries Name

By | April 24, 2021
G-20 के सदस्य देशो का नाम याद रखने का ट्रिक - Gk Tricks G 20 Member Countries Name

बीस वित्त मंत्रियों और सेंट्रल बैंक के गवर्नर का समूह (G-20) की स्थापना साल 1999 में हुई थी| G–20 के नेता वर्ष में एक बार बैठक करते हैं|

वर्ष के दौरान, देशों के वित्त मंत्री और केंद्रीय बैंक के गवर्नर वैश्विक अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने, अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों में सुधार लाने, वित्तीय नियमन में सुधार लाने और प्रत्येक सदस्य देश में जरुरी प्रमुख आर्थिक सुधारों पर चर्चा करने के लिए नियमित रूप से बैठक करते रहते हैं।

वरिष्ठ अधिकारियों और विशेष मुद्दों पर नीतिगत समन्वय पर काम करने वाले कार्य समूहों के बीच वर्ष भर चलने वाली बैठकें भी होती हैं। G–20 के सदस्य वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद का करीब 85%, वैश्विक व्यापार के 75% और विश्व की आबादी के दो– तिहाई से अधिक का प्रतिनिधित्व करते हैं।

G-20 के सदस्य देशो का नाम याद रखने का ट्रिक


गुरू जी सीता अब एसएससी एफसीआई में- Guruji Sita Ab SSC FCI Me

  • G- Germany जर्मनी
  • U- USA – संयुक्त राज्य अमेरिका
  • R- Russia – रूस
  • U – UK – यूनाइटेड किंगडम
  • J- Japan – जापान
  • I- India – भारत
  • S- South Africa – दक्षिण अफ्रीका
  • I- Indonesia – इंडोनेशिया
  • T- Turkey – तुर्की
  • A- Australia – ऑस्ट्रेलिया
  • A- Argentina – अर्जेंटीना
  • B- Brazil – ब्राज़िल
  • S- Saudi Arabia – सऊदी अरब
  • S- South Korea – दक्षिण कोरिया
  • C- Canada – कनाडा
  • F- France – फ्रांस
  • C -China – चीन
  • I- Italy – इटली
  • M- Mexico – मेक्सिको
  • E- European Union – यूरोपीय संघ

नोट – विश्‍व के बीस देशों के वित्त मंत्रियों और सेंट्रल बैंक के गवर्नर्स का समूह को जी -20 के रूप में भी जाना जाता है, इसकी स्‍थापना 1999 में हुई थी, इसके वर्तमान अध्‍यक्ष 2014 मेंं ऑस्ट्रेलिया के टोनी एबॉट (Tony Abbott) बने हैं, जो ऑस्ट्रेलिया के 28वें प्रधानमंत्री रह चुके हैं।  इन्‍हें याद रखने के लिये आप हिंग्लिश “Hinglish” याद रखेंं।

यहाँ आपको G-20 के सदस्य देशो के विषय में जानकारी दी गई है | अब आशा है कि आप इस जानकारी से संतुष्ट होंगे, यदि आप इससे संबंधित अन्य किसी जानकारी को प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करके अपना सुझाव दे, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही उत्तर देने का प्रयास किया जायेगा |

You may also read: विश्व के प्रमुख संगठन और उनके मुख्यालय

Leave a Reply

Your email address will not be published.